झारखंड कृषि ऋण माफी योजना के छुटे हुए लाभुकों का ई-केवाईसी करवाने हेतु दिनांक 11 जून से 13 जून तक सभी प्रखंड एवं मुख्यालय में विशेष कैंप का आयोजन किया जाएगा

0

जागता झारखंड ब्यूरो।

पाकुड़। उपायुक्त वरुण रंजन के निर्देशानुसार झारखंड कृषि ऋण माफी योजना के छुटे हुए लाभुकों का ई-केवाईसी करवाने हेतु दिनांक 11 जून से 13 जून तक सभी प्रखंड एवं मुख्यालय में विशेष कैंप का आयोजन किया जाएगा।
पाकुड़ जिला के किसान भाई जो झारखंड कृषि ऋण माफी योजना के अंतर्गत आते हैं और जो अभी तक अपना ई-केवाईसी नहीं करवाए हैं। वह इस कैंप में आ करके अपना ई-केवाईसी करवा लें। यदि अपना ई-केवाईसी नहीं करवाते हैं तो आपका लोन माफी का प्रक्रिया पूरा नहीं होगा। *पाकुड़ जिला में कुल 10,811 किसानों का कृषि ऋण माफी किया जाना है जिसमें 7265 किसानों का ई-केवाईसी पूर्ण हो चुका है। 669 किसानों ने अपना ई-केवाईसी करवाया है। परंतु राशन कार्ड, बैंक खाता में नाम या आधार कार्ड में नाम में अंतर के कारण उनका जिला कृषि कार्यालय से ई-केवाईसी रद्द कर दिया गया है। उन्हें अपने कागजात में सुधार करके सही नाम से पुनः ई-केवाईसी करवाना है तभी उनको कृषि ऋण माफी योजना का लाभ मिलेगा।इसके अलावा 2877 किसान अभी भी ऐसे हैं जो कि विभिन्न कारणों से अपना ई-केवाईसी नहीं करवाए हैं। जिसमें 602 किसान जिला से बाहर है, 472 मृत हैं, राशन कार्ड नहीं है इत्यादि कारणों से अभी भी जिला में 2877 किसानों का ई-केवाईसी लंबित है। किसानों को चौकीदार के माध्यम से ई-केवाईसी कराने हेतु नोटिस भी भेजा गया है। किसान भाइयों से अपील है कि इस कैंप में अधिक से अधिक संख्या में पहुंचकर अपना ई-केवाईसी करवाएं और झारखंड कृषि ऋण माफी योजना के लाभ उठाएं। ज्ञात हो कि इस योजना अंतर्गत 31 मार्च 2020 को जो मानक केसीसी खाता धारक थे उनका 50,000 रुपए तक माफी किया जाना है। किसान भाई अपने नजदीकी प्रज्ञा केन्द्र में भी जाकर ई-केवाईसी करवा सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here