हत्या कर भाग रहे आरोपी को पाकुड़िया पुलिस ने किया गिरफ्तार

0

जागता झारखंड संवाददाता।

पाकुड़िया (पाकुड़) पाकुड़िया थाना में शोमवार को पत्रकार सम्मेलन आयोजित कर महेशपुर एसडीपीओ नवनीत हेंब्रम ने घटना का बरामद महिला का शव मामले का उद्भेदन करते हुआ बताया कि शनिवार की शाम को बंगाबाड़ी ग्राम स्थित मोरम खदान के पास झाड़ी से एक अज्ञात लड़की की शव को पाकुड़िया पुलिस ने बरामद की थी लेकिन उसकी पहचान दो दिनों तक नही हो पाई थी । टेक्निकल जांच के बाद पता चला है कि अज्ञात लड़की मुर्शिदाबाद जिला के खड़ग्राम थाना अंतर्गत नुनाडांगा की रहने वाली 25 वर्षीय रेजिना खातून है वह शादीशुदा है लेकिन पति से उसकी तलाक हो चुकी है।वह अपने पति को छोड़कर कोलकाता में रहकर जीवन यापन करती थी । रेजिना खातून की हत्या बंगाबाड़ी गांव के ही एक युवक 29 वर्षीय शंकर देहरी ने शुक्रवार रात को गला दबाकर कर दी थी और शव को झाड़ी में छुपाकर उसका मोबाईल फोन साथ में लेकर भाग गया था , हत्या कर शंकर देहरी पुणा भागने वाला था , इसके पहले ही पाकुड़िया थाना प्रभारी अभिषेक राय और सब इंस्पेक्टर पुनीत गौतम ने मोबाईल टेक्निकल सेल के सहयोग से रविवार शाम को उसे दुमका बस स्टैंड पर गिरफ्तार कर पाकुड़िया थाना लाया , पूछताछ के बाद उसने अपनी अपराध स्वीकार की और उसे सोमवार को पाकुड़ जेल भेज दिया गया । एसडीपीओ ने बताया कि घटना रहस्यमय था । लड़की का शव बरामदी के बाद पहचान के सिलसिले में बंगाबाड़ी गांव के स्थानीय कुछ लोगो से पुछताछ के दौरान थाना प्रभारी अभिषेक राय को बताया कि बंगाबाड़ी गांव के ही एक 29 वर्षीय युवक शंकर देहरी को एक नई लड़की के साथ शुक्रवार को बंगाबाड़ी हाट में घूमते हुए देखा गया था । तब पुलिस का शक शंकर देहरी की ओर गई और उसकी तलाशी शुरू कर दी, उसका मोबाईल नम्बर पता कर उसके मोबाईल को सर्विलांस में लगाई गई तो उसका लोकेशन दुमका बताया ,बिना देर किए रविवार शाम को थाना प्रभारी अभिषेक राय एवं एस आई पुनीत गौतम दुमका पहुंचे तथा लोकेशन के आधार पर दुमका बस स्टैंड में उसे गिरफ्तार कर पाकुड़िया थाना लाया गया । गिरफ्तारी के वक्त तलाशी में उसी के पास मृत लड़की का मोबाईल पाया गया । बरामद मोबाईल से ही मृत लड़की की पहचान पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद निवासी रेजिना खातून उम्र 25 के रूप में हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here